अमरोहा में रहने वाले सभी नागरिक खुले में शौच से मुक्त हो जायेगें

ऑडिशन टाइम्स ब्यूरो अमरोहा मंत्री, खेलकूद, युवा कल्याण एवं व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग चेतन चैहान  की अध्यक्षता में सुमंगलम बैंकट हाॅल में स्वच्छ भारत मिशन(ग्रामीण) के अन्तर्गत स्वच्छ अमरोहा, खुलें में शौच मुक्त अमरोहा को आज को खुलें में शौच मुक्त घोषित किया गया है, यह बहुत बड़ा इतिहास है, इसके द्वारा जनपद अमरोहा में रहने वाले सभी नागरिक खुले में शौच से मुक्त हो जायेगें। खुलें में शौच से होने वाली बीमारियों से मुक्त हो जायेगें व बहन बेटी, माता जो सामाजिक रूप से अपमानित और बेईज्जत की जाती है, इससे मुक्ति मिल जायेगीं। जनपद अमरोहा में कुल 164000 शौचालय बनाने का लक्ष्य था, जिसमें सरकार द्वारा 18 हजार करोड़ रू0 की स्वीकृति दी गई थी। उन्होने मुख्य विकास अधिकारी, ग्राम प्रधान, सचिव को संबोधित करते हुए कहा कि ऐसे व्यक्ति जो बेस लाईन सर्वे के अनुसार किसी कारणवश शौचालय नही बनवायें जा सके उन लोगों का शौचालय पात्रता के अनुसार 90 दिन के अन्दर अवश्य बनवा दें।
मंत्री जी ने कहा कि सर्वाधिक लोग दूषित जल से होने वाली बीमारियों से पीड़ित हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के आकड़े बताते हैं कि दुनिया में प्रतिवर्ष करीब 6 करोड़ लोग डायरिया से पीड़ित होते हैं, जिनमें से 40 लाख बच्चों की मौत हो जाती है। डायरिया और मौत की वजह प्रदूषित जल और गंदगी ही है। अनुमान है कि विकासशील देशों में होने वाली 80 प्रतिशत बीमारियां और एक तिहाई मौतों के लिए प्रदूषित जल का सेवन ही जिम्मेदार है। यही वजह है कि विकासशील देशों में इन बीमारियों के नियंत्रण और अपनी रचनात्मक शक्ति को बरकरार रखने के लिए साफ-सफाई, स्वास्थ्य और पीने के साफ पानी की आपूर्ति पर ध्यान देना आवश्यक हो गया है। निश्चित तौर पर साफ पानी लोगों के स्वास्थ्य और रचनात्मकता को बढ़ावा देगा। कहा भी गया है कि सुरक्षित पेयजल की सुनिश्चितता जल जनित रोगों के नियंत्रण और रोकथाम की कुंजी है इस परिप्रेक्ष्य अवश्य ही जनपद अमरोहा इन बीमारियों से मुक्त होकर एक स्वस्थ्य व खुशहाल जीवन जियेगा।।सांसद चै0 कंवर सिंह तंवर जी ने कहा कि  हमें मर्यादापूर्वक शौच निपटाने की सही सोच के साथ शौचालय उपलब्ध होना ही चाहिए। सरकार स्वच्छ भारत मिशन आदि से शौचालय बनवाना चाहती है और इसके लिए काफी बड़े बजट का प्रावधान किया गया है।
विधायक  राजीव तारारा ने कहा कि मा0 प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी जी ने शौचालय को इज्जतघर नाम दिया है, ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाली, महिलायें, गरीब, असहाय और वृद्ध जो बाहर शौच जाने में असमर्थ थे, उन्हें अब इस समस्या से निजात मिल जायेगी। उ0प्र0 सरकार ने यक संकल्प लिया है कि सरकारी तंत्र  प्रधान, जन प्रतिनिधि इस कार्य में मेहनत करके प्रत्येक गरीब व्यक्ति को मिलने वाला लाभ दिलवाये।  जिलाधिकारी  हेमन्त कुमार जी ने कहा कि 601 पंचायतों में प्रति ग्राम पंचायत एक स्वच्छाग्राही का चयन किया गया, समस्त स्वच्छााग्राहियों को सी0एल0टी0एस0 क्रिया में 05 दिवसीय आवासीय प्रशिक्षण दिलाया गया, ताकि वे ग्रामीणों को शौचालय के निर्माण, उसके प्रयोग तथा खुलें में शौच न करने के लिए प्रभावशाील तरीके के प्रेरित कर सके। उन्होने बताया कि सभी 940 ग्रामों में ग्रामीणों को शौचालय के प्रयोग करने हेतु 05 दिवसीय आवासीय समुदाय आधारित सम्पूर्ण स्वच्छता गतिविधियों का आयोजन किया गया और सभी 940 ग्रामो में महिलाओं बच्चों और पुरूषों की पृथक-पृथक समितियां/टोलियों का गठन किया गया जिनके द्वारा खुलें में शौच को जाने वाले व्यक्तियों को सुबह और सायंकाल में खुलें में शौच न करने और शौचायल निर्माण के लिए प्रेरित किया गया।  जिलाधिकारी  ने कहा कि जनपद अमरोहा में 271288 परिवार हैं, जिसमें 106899 परिवारों के पास पहले से शौचालय थे, कुल 164390 शौचालय बनवायें जाने थे, जिसमें 14901 लोगों ने स्वयं प्रेरित होकर शौचायल बनवा लियें है। 149488 शौचालय सरकारी तौर पर व सरकारी धन से बनवायें गये है, जोकि कुल 60 प्रतिशत शौचालय बनवायें जाने थे, 40 प्रतिशत शौचालय पहले से बनें हुए थे, जिसमें से 27 प्रतिशत शौचालय प्रयोग में लाये जा रहें थे, 13 प्रतिशत लोग शौचालय का प्रयोग नही कर रहें थे, जिसमें सी0एल0टी0एस0टीम, ग्राम प्रधान, सचिव ने अनेक प्रकार के स्वच्छता प्रेरक व जागरूकता कार्यक्रम आयोजित कर लोगो का घर-घर जाकर शौचालय प्रयोग करने के बारे में समझा कर प्रेरित किया। सी0एल0टी0एस0 टेªनिंग के द्वारा ग्रामवासियों को प्रेरित करने ग्राम प्रधान जो अच्छा कार्य किये हैं व पंचायत विभाग द्वारा अच्छा कार्य करने वाले खण्ड विकास अधिकारी, सहायक खण्ड विकास अधिकारी, ग्राम विकास अधिकारी, खण्ड प्रेरक, जिला पंचायज राज अधिकारी को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।उक्त कार्यक्रम का संचालन  वीरेन्द्र कुमार शुक्ला ने कुशलतापूर्वक किया। जिलाध्यक्षा भाजपा ऋषिपाल नागर, जिला पंचायत अध्यक्षा श्रीमती सरिता चैधरी, मुख्य विकास अधिकारी दिनेश कुमार, पुलिस अधीक्षक श्री सुधीर कुमार सिंह, उप जिलाधिकारी  सुखबीर सिंह, जिला पंचायत राज अधिकारी सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारी और भाजपा नेता और समस्त ग्राम प्रधान, ग्राम सचिव उपस्थित थे।