योगी के राज में लुट रहा है किसान नेता अपना कुर्ता चमकाने में लगे।

up cabinet के लिए इमेज परिणाम
योगी के राज में लुट रहा है किसान नेता अपना कुर्ता चमकाने में लगे।
पीलीभीत।
जनपद में नेता अपना-अपना कुर्ता चमकाने में लगे हैं कोई छात्रावास को लेकर सुर्खियां बटोर रहा है तो कोई डीजल और पेट्रोल को लेकर , यह सिर्फ किसानों का ध्यान भटकाने के लिए नेता अपना षडयंत्र रच रहे हैं , सरकारें आती और जाती रहेगी लेकिन नेता अपना वोट बैंक ना फिसल जाए इसलिए किसानों से दूरी बनाकर रहने में अपनी भलाई समझते रहे हैं , असल मुद्दे पर कोई नेता नहीं बोल रहा है , क्यों
अब जब धान की फसल पक कर तैयार हुई है , तो सत्ता या बिपक्ष का कोई नेता किसानों का साथ नहीं दे रहा है नेता ऐसे बेबजह के मुद्दों में शामिल हो रहे हैं , जिसका किसानों से कोई लेना देना नहीं है ताकि मीडिया की सुर्खियों में बने रहे और नाम अखबारों में छपता रहे है ताकि चुनाव के समय लोग नाम से पहचाने , मंडी में धान 1425 से पहले बिक रहा है जबकि सरकारी रेट ₹1750 है इस पर कोई नेता बोलने को तैयार नहीं है न कोई आवाज उठा रहा है न सड़कों पर धरना प्रदर्शन जुलूस कर रहा है आखिर क्यों , यही सत्ता और विपक्ष के नेता विधानसभा और संसद में बैठकर एकमत होकर अपना वेतन बढ़ा लेते हैं लेकिन जब किसानों की बारी आती है तो विपक्ष के नेता अलग अपना राग अलापते हैं सत्ता के नेता अलग , किसानों के नाम पर सत्ता और विपक्ष अलग-अलग है।