राजकीय आर्युवेदिक में दवाई के नाम पर हो रही अबैध वसूली।

ayurvedic medicine के लिए इमेज परिणाम

राजकीय आर्युवेदिक में दवाई के नाम पर हो रही अबैध वसूली।
पीलीभीत।
जहां केंद्र सरकार आयुष्मान योजना के तहत गरीबों को स्वस्थ रखने को हरसंभव मदद का फरमान भेज रही हो। वहीं ग्रामीण क्षेत्र में लगातार  दवाई के नाम पर अवैध उगाही का धंधा चरम पर है।
ताजा मामला पूरनपुर के कस्बा घुघचिहाई का है। जहां राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय में फार्मासिस्ट द्वारा मरीज से दवा के नाम पर पैसे वसूलने का मामला सामने आया है। पीड़ित का आरोप है कि सुबह उसके शरीर में तेज दर्द होने के कारण वह पास के ही राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय में दवा लेने गया। जहां उसने फार्मासिस्ट को अपनी बीमारी मौखिक रूप से बताई।फार्मासिस्ट ने एक रुपए का पर्चा बनाकर दवाई निकलवाना शुरू कर दी। आरोप है कि जब दवाई लेकर मरीज  अपने घर की ओर चला फार्मासिस्ट ने दवाई के नाम पर ₹60 मांगे। जो उसने फार्मासिस्ट को दे दिए।