स्वयं के अपहरण का रचा षणयंत्र, विपक्षियों के विरुद्ध पंजीकृत कराया मुकदमा, थाना उझानी पुलिस व स्पेशल टीम ने किया खुलासा।

स्वयं के अपहरण का रचा षणयंत्र, विपक्षियों के विरुद्ध पंजीकृत कराया मुकदमा, थाना उझानी पुलिस व स्पेशल टीम ने किया खुलासा।
ब्युरो ऑडिशन टाइम्स बदायूं
बदायूं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद अशोक कुमार के निर्देशन में अपह्रत की बरामदगी हेतु चलाये जा रहे अभियान के अन्तर्गत प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार के नेतृत्व में थाना उझानी पुलिस टीम द्वारा स्पेशल टीम के सहयोग से अपह्रत नारायण पुत्र सुन्दर लाल निवासी ग्राम हरहरपुर थाना उझानी जनपद बदायूं को पानीपत (हरियाणा) से बरामद करते हुए अपह्रत नारायण द्वारा स्वयं के अपहरण का षणयंत्र रचने पर कड़ी कार्यवाही की गयी। आपको वताते चलें कि दिनांक 25.11.2018 को नारायण रहस्यमयी ढंग से गायब हो गया था जिसके सम्बन्ध में अपह्रत के पिता सुन्दर लाल पुत्र गैंदन लाल द्वारा थाना उझानी पर अपने बड़े पुत्र रनवीर के साले सम्बू पुत्र राधाकृष्ण व उसके भतीजे मुकेश पुत्र शंकर लाल निवासी मोहल्ला कायस्तान थाना सोरों जनपद कासगंज के विरुद्ध नामजद अभियोग पंजीकृत कराया था। जबकि अपह्रत नारायण अपना नाम बदलकर छोटे नाम से दिनांक 26.11.2018 से गत्ता फैक्ट्री सत्यम इन्टरप्राइजेज, सेक्टर 29, प्लाट नं0 129, पानीपत (हरियाणा) में नौकरी कर रहा था। अपह्रत के पिता सुन्दर लाल, भाई रनवीर, बहनोई हरीसिंह पुत्र रामस्वरूप निवासी सागरपुर थाना सोरों जनपद कासगंज, दोस्त रवि पुत्र नन्हे लाल निवासी ग्राम हरहरपुर थाना उझानी जनपद बदायूं व स्वयं नारायण द्वारा झूठे अपहरण का षणयंत्र रचकर विपक्षियों के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कराया गया। इसके अतिरिक्त अपह्रत नारायण द्वारा अपने मोबाइल से सर्विलांस की पकड़ में न आने की जानकारी रखते हुए अपने परिजनों, सगे सम्बन्धियों व दोस्त रवि से मोबाइल फोन पर वीडियो/इन्टरनेट कालिंग द्वारा बातचीत की जाती थी। इस घटना के षणयंत्रकारी नारायण उर्फ छोटे, उसके पिता सुन्दर लाल, भाई रनवीर, बहनोई हरीसिंह व मित्र रवि के विरुद्ध अन्तर्गत धारा 120बी के अन्तर्गत अभियोग पंजीकृत कर विधिक कार्यवाही की जा रही है।