हेरोल्ड शिपमैन ने २५० लोगों मौत के घात उतारा

Image result for harold shipman

हेरोल्ड शिपमैन ने २५० लोगों मौत के घात उतारा हारोल्ड शिपमैन को ‘द एंजेल ऑफ डेथ’ और ‘डॉक्टर डेथ’ के नाम से जाना जाता था. उसके नाम की दहशत का आलम ये था कि लोग उसके नाम को सुनना भी नहीं चाहते थे.हारोल्ड शिपमैन का जन्म 14 जनवरी, 1946 में इंग्लैंड के नॉटिघंम में हुआ था. साल 1970 में उसने बतौर डॉक्टर प्रैक्टिस शुरू की. इसी दौरान न जाने उसके सिर पर क्या भूत सवार हुआ कि वो मरीजों को मारने के लिए अफीम की ओवरडोज देने लगा. जिससे उनकी मौत की वजह भी पता नहीं चल पाती थी.हारोल्ड के निशाने पर ज्यादातर महिलाएं हुआ करती थीं. हैरानी की बात ये है कि वह उनके अंतिम संस्कार में भी शामिल होता था. आंकड़ों के मुताबिक 1998 तक उसने करीब 250 लोगों का कत्ल किया था. मरने वालों में अधिकतर महिलाएं शामिल थीं.हारोल्ड शिपमैन की मां को लंग कैंसर था. इसी वजह से उसकी मां की मौत हो गई थी. इस घटना से उसे गहरा सदमा लगा था. इसी टीस ने उसे हत्यारा बना दिया. 24 जून, 1998 में 81 साल की एक महिला की मौत के बाद उसके जुर्म का पर्दाफाश हुआ था.