नगर पालिका अध्यक्ष के घोटालो की करायी जाए सीबीआई जांच : प्रवीन सिंह  -रालोद का धरना छठे दिन रहा जारी

सीतापुर। राष्ट्रीय लोकदल का धरना शनिवार को छठे दिन भी जारी रहा। इस दौरान महासचिव मध्य जोन प्रवीन सिंह ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा अभी तक सुध लेने की फिराक नहीं है। इससे यह सिद्ध होता है कि भ्रष्टाचार मं जिला प्रशासन स्वंय संलिप्त है। इसलिए रालोद की मांग है कि नगर पालिका चेयरमैन राधेश्याम जायसवाल की जांच सी0बी0आई0 से कराई जाए और अभी तक कार्यवाही न करे के कारण यह स्पष्ट हो सके कि जिला प्रशासन के कौन लोग इस घोटाले में शामिल हे। रालोद पदाधिकारी तब तक आंदोलन जारी रखेंगे, जब तक भ्रष्टाचार की जांच नहीं हो जाती। यदि शीघ्र कार्यवाही न हुई तो रालोद के पदाधिकारी आमरण अनशन करने के लिए बाध्य हेंगे। वहीं उन्होंने कहा कि  भ्रष्ट पालिका अध्यक्ष के ऊपर इतने कठोर आरोप शासन व प्रशासन ने लगाये है, लेकिन कोई भी कार्यवाही न होने से संगठन के लोगों को धरने पर बैठने को विवश होना पड़ा है, अगर शासन व प्रशासन द्वारा ईमानदारी से कार्य किया जाता, तो हम लोगों को भ्रष्टाचार के विरूद्ध इतना संघर्ष करने की आवश्यकता नहीं होती। सीतापुर की जनता के साथ जो अन्याय राधेश्याम ने किया है। उसको न्याय दिलाने का काम हमारा संगठन कर रहा है। श्री सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा कि राधेश्याम द्वारा हुसैनगंज बिजवार व पुराने सीतापुर में जो बेसकीमती जमीनों का घोटाला किया गया है, उसके लिये शासन व प्रशासन को संज्ञान लेकर विधिक व नियमानुसार कार्यवाही न किया जाना भ्रष्टाचार को बढावा दे रहा है। प्रवीन कुमार सिंह ने कहा कि राधेश्याम जायसवाल को कारण बताओं नोटिस जारी होने के पश्चात वित्तीय व प्रशासनिक कार्यों का संचालन किया जाना शासन व प्रशासन की संलिप्तता दर्शाता हैं। सत्तारूढ पार्टी को भी संज्ञान लेकर इस भ्रष्ट समाजवादरी पार्टी के खिलाफ कार्यवाही के लिये आगे आना चाहिए। अगर सत्ता भी इसका संज्ञान ले ले, तो शायद प्रशासनिक अधिकारियों की आंखे ख्ुल जाये और भ्रष्ट अध्यक्ष के खिलाफ हमारे आंदोलन को जीत मिले। इस अवसर पर दिलीप तिवारी, गीता, रोहनी, पंकज, रामऔतार, छोटे, संतू, मो0 उमर, जगदीश, आलोक, राज, रोहित, राजकुमार मिश्र, सुकाली, कमला, बृजरानी, गीता आदि पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।
Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial