कुष्ठ रोग जागरूकता शिविर में रोगियों को सैंडल वितरित किये गए

**औरैया 31 जनवरी,

फफूंद कस्बे के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द पर  जिला कुष्ठ निवारण कार्यक्रम के तहत स्पर्श कुष्ठ जागरुकता कार्यक्रम  का आर्योजन किया गया जिसमें कुष्ठ रोगियो को सेंडिल वितरित की गई।
   कुष्ठ जागरूकता कार्यक्रम में पीएचसी फफूंद के प्रभारी चिकित्साधिकारी डा० अजय कुमार ने महात्मा गॉधी के चित्र पर माल्यार्पण करने के बाद स्वास्थ्य केंद्र में आये कुष्ठ रोग के मरीजों प्रताप सिंह व लल्लन बाबू को सेंडिल वितरित करते हुए प्रभारी चिकित्साधिकारी अजय कुमार ने कहा कि कुष्ठ रोग अति क्षीर्ण स्तर का संक्रामक रोग है और रोग के लक्षण होने पर एम,डी,टी,की मात्र एक ख़ुराक खाने से रोगी में संक्रमण नही होता है ।उन्होंने कहा कि कुष्ठ रोग होने की सभावना में शरीर में रोग से लड़ने की ताकत पर निर्भर होता है कुष्ठ रोगी 6 से 12 माह के नियमित एम,डी,टी,खाने से पूर्णतया ठीक हो जाता है।
इस मौके पर एन एम एस शिवेन्द सिंह चौहान, फार्मेसिस्ट विनोद कुमार,वार्ड बॉय अवनीश,सौरभ,पंकज , एच,वी,सुशीला, अखिलेश स्वच्छक, अवनीश वार्ड बाय सौरभ, पंकज शर्मा, आदि मौजूद रहे।। फ़ोटो-रोगियों को सैंडल वितरित करते चिकित्सक

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial