स्कूली बच्चों की स्पोर्ट किट में हुई घपलेबाजी की जांच शुरू.सभी बीईओ एवं ब्लाक व्यायाम शिक्षकों के वेतन पर रोक, जनपद छोड़ने पर भी प्रतिबंध

हरदोई। जिलाधिकारी पुलकित खरे ने बताया है कि परिषदीय विद्यालयों में खेल सामग्री खरीद के सम्बन्ध में प्राप्त शिकायतों की जांच हेतु समस्त ब्लाकों में उप जिलाधिकारी, तहसीलदार एवं खण्ड विकास अधिकारियों की जांच टीम गठित की गयी है और जांच टीमें ब्लाक के सभी विद्यालयों में क्रय की गयी खेल सामग्री की जांच कर जांच आख्या 15 दिन में उपलब्ध करायेगीं। उन्होने अवगत कराया कि जांच टीमें जांच में देखेगी कि क्या खेल सामग्री क्रय करने हेतु समिति का गठन किया, खेल सामग्री की वास्तविक बाजार कीमत, फर्म का नाम, खेल सामग्री को स्टाक रजिस्टर में अंकन किया गया या नहीं। खरे ने कहा है कि जब तक खेल सामग्री क्रय करने की जांच पूरी नहीं हो जाती तब तक समस्त बीईओ एवं ब्लाक व्यायाम शिक्षकों का वेतन बाधित करते हुए जनपद छोड़ने पर प्रतिबन्ध लगाया है। 
विदित हो कि प्राथमिक विद्यालय में 05 हजार व उच्च प्राथमिक विद्यालय में 10 हजार रुपये खेलो इंडिया की ओर से स्पोर्ट्स किट खरीदने हेतु शासन ने आवण्टित किये हैं। बच्चों की खेल सामग्री पर कुछ राजनैतिक लोगों ने गिध्द दृष्टि डाल दी, और शिक्षा विभाग के अधिकारियों से मिलकर मनमाने तरीके से घटिया स्तर की खेल सामग्री उपलब्ध कराने में जुट गए हैं। मामले की कई शिकायतों के बाद जिलाधिकारी ने मामला संज्ञान में लिया है

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial