घर-घर जाकर प्रत्येक परिवार का किया जायेगा आर्थिक सर्वे

   सातवें आर्थिक गणना-2019 की जनपद स्तरीय एक दिवसीय प्रशिक्षण/कार्यशाला का आयोजन विकास भवन सभागार में सम्पन्न हुआ। कार्यशाला का शुभारम्भ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि उप निदेशक, (अर्थ एवं संख्या) श्री नवीन चतुर्वेदी ने दीप प्रज्वलित कर किया।
    उप निदेशक, (अर्थ एवं संख्या) ने आर्थिक गणना के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए आर्थिक गणना के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों की जानकारी पंजीकृत सी0एस0सी0 केन्द्र संचालकों को दी। उन्होंने कहा कि भारत सरकार के केन्द्रीय सांख्यिकी मंत्रालय ने गणना की जिम्मेदारी कॉमन सर्विस सेन्टर ई-गवर्नेन्स सर्विसेस इण्डिया लि0 को सौंपी है। यह कार्य ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में प्रगणकों/पर्यवेक्षकों के माध्यम से किया जायेगा। 
    जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी श्री प्रदीप कुमार ने कहा कि आर्थिक गणना के तहत ग्रामीण व नगरीय क्षेत्रों में आने वाले उद्यमों से सम्बन्धित आधारभूत आंकड़े इकट्ठा किये जायेंगे। घर-घर जाकर प्रत्येक परिवार का आर्थिक सर्वे किया जायेगा। इसके सफल संचालन के लिए जिलाधिकारी की अध्यक्षता में समन्वय समिति का गठन किया गया है। प्रशिक्षण के दौरान प्रतिभागियों की शंकाओं का समाधान जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी एवं अपर सांख्यिकीय अधिकारी श्री श्रद्धानन्द त्रिपाठी द्वारा किया गया।

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial