कैलाश से बल्केश्वर तक वन विभाग की भूमि को रमणीक बनाने का प्रस्ताब

आगरा। आगरा उत्तर के भाजपा विधायक पुरुषोत्तम खंडेलवाल ने राष्टÑीय राजमार्ग से कैलाश मंदिर तक पड़ी वन विभाग की भूमि को रमणीक बनाने के लिए प्रस्ताव तैयार करने को डीएएफओ मनीष मित्तल से कहा है। 
श्री खंडेलवाल ने विगत दिनों फतेहपुरसीकरी के सांसद राज कुमार चाहर और आरएसएस के प्रांतीय सम्पर्क प्रमुख अशोक कुलश्रेष्ठ के साथ कैलाश व उसके आसपास के क्षेत्र में वन विभाग की भूमि का निरीक्षण भी किया था। श्री खंडेलवाल ने कहा कि राजमार्ग से कैलाश मंदिर तक वन विभाग की काफी भूमि अस्त-व्यस्त पड़ी है। ऐसे ही अनेक भूखंड कैलाश से बल्केश्वर मोक्षधाम तक यमुना किनारे स्थित हैं। उक्त भूमि के निकट आबादी क्षेत्र होने के कारण यहां अब जंगली पशुओं का रखना संभव नहीं है। उक्त वनस्थलों को हरा-भरा रखने के लिए पेड़ व अन्य प्रकार की हरियाली विकसित कर इसे रमणीक पिकनिक स्थल के रूप में विकसित किया जा सकता है। मनुष्यों को हानि न पहुंचाने वाले पशु-पक्षी भी पाले जा सकते हैं। खान-पान के स्टाल व मनोरंजन के लिए झूले, फौवारे व नौका विहार कर यहां विशेष आकर्षण का केंद्र बनाया जा सकता   है। 
भाजपा विधायक ने कहा कि आगरा में देश-विदेश के पर्यटक आते हैं, लेकिन सायंकाल मनोरंजन के साधन न होने के कारण अधिकांश पर्यटक वापस लौट जाते हैं। श्री खंडेलवाल ने डीएफओ मित्तल से कहा कि सुप्रीम कोर्ट की भावना को ध्यान में रखते हुए कैलाश मंदिर, सेक्टर 11 व कैलाश मंदिर से बल्केश्वर मोक्षधाम तक वन विभाग की भूमि को आधुनिक पार्क के रूप में विकसित करने का प्रस्ताव तैयार करें ताकि इसे अमल में लाया जा सके।

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial