अमेरिकी संसद ने ग्रीन कार्ड पर लगी सात प्रतिशत की सीमा हटायी 0-भारतीयों के लिए खुशखबरी


वाशिंगटन,11 जुलाई । अमेरिका में रहने और काम करने की इच्छा रखने वाले भारतीयों के लिए अच्छी खबर है। अमेरिकी सांसदों ने ग्रीन कार्ड जारी करने पर मौजूदा सात प्रतिशत की सीमा को हटाने के उद्देश्य से बुधवार को एक विधेयक पारित किया। अमेरिका की प्रतिनिधि सभा द्वारा पारित यह विधेयक भारत जैसे देशों के उन प्रतिभाशाली पेशेवरों के लिए राहत देने वाली खबर है जो अमेरिका में स्थायी रूप से रहने और काम करने की इच्छा रखते है। 
फेयरनेस ऑफ हाई स्किल्ड इमिग्रेंट्स एक्ट, 2019 या एचआर 1044 नाम का यह विधेयक 435 सदस्यीय सदन में 65 के मुकाबले 365 मतों से पारित हो गया। ग्रीन कार्ड पर प्रत्येक देश के हिसाब से लगी सीमा से मुख्यत: फायदा भारत जैसे देशों से एच-1 बी वर्क वीजा पर काम कर रहे हाई-टेक पेशेवरों को फायदा होगा जिनके लिए ग्रीन कार्ड का इंतजार एक दशक से भी ज्यादा वक्त का है। हाल के कुछ अध्ययनों में कहा गया कि एच-1 बी वीजा प्राप्त भारतीय आईटी पेशेवरों के लिए यह इंतजार 70 साल से भी ज्यादा का है।
स्वतंत्र रूप से काम करने वाली कांग्रेसनल रिसर्च सर्विस (सीआरएस) के मुताबिक, इस विधेयक से परिवार आधारित आव्रजन वीजा पर प्रत्येक देश को लेकर लगी सीमा को उस साल उपलब्ध ऐसे वीजा की कुल संख्या सात प्रतिशत से बढ़कर 15 प्रतिशत हो जाएगा और रोजगार आधारित आव्रजन वीजा के लिए सात प्रतिशत की सीमा खत्म हो जाएगी। 

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial