22 देशों ने चीन से शिनजियांग में मुसलमानों की नजरबंदी खत्म करने को कहा

जिनेवा,11 जुलाई । चीन में मुसलमानों पर लगाए गए कई तरह के प्रतिबंधों के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय समुदाय आगे आया है। मानवाधिकार निगरानी संस्था (ह्यूमन राइट्स वॉच) का कहना है कि 22 पश्चिमी देशों ने एक बयान जारी कर चीन से कहा है कि वह शिनजियांग क्षेत्र में उइगर और अन्य मुसलमानों के खिलाफ बड़े पैमाने पर मनमाने तरीके से हुई नजरबंदी और अन्य उल्लंघनों को खत्म करें।
इस समूह ने संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार परिषद में इस महत्वपूर्ण बयान की सराहना की है, जो शिनजियांग में चीन की नीतियों के बारे में चिंता व्यक्त करने की दिशा में एक सांकेतिक कदम है। 
मानवाधिकार समूहों और अमेरिका का अनुमान है कि शिनजियांग में करीब 10 लाख मुसलमानों को शायद मनमाने तरीके से नजरबंद किया गया है। हालांकि, चीन हिरासत केंद्रों में इस तरह के मानवाधिकार उल्लंघनों से इनकार करता रहा है। उसका तर्क है कि इन मुसलमानों को कट्टरपंथ से लडऩे तथा रोजगार के लिए कौशल सिखाने के उद्देश्य से प्रशिक्षण स्कूलों में डाला गया है।
००

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial